आयो नन्द को लाल हर तरफ छाई खुशियां : जन्माष्टमी महोत्सव

नंद के आनन्द भयो जय कन्हैया लाल... जैसे जयकारों के बीच आज मध्यरात्रि को योगीराज भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ तो चहुंअोर खुशियां बिखर गईं।

0
129

 

अभिषेक दुबे 

संवाददाता 

नंद के आनन्द भयो जय कन्हैया लाल… जैसे जयकारों के बीच आज मध्यरात्रि को योगीराज भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ तो चहुंअोर खुशियां बिखर गईं। कृष्ण की जन्मभूमि मथुरा में तो मानों कण-कण इस अभूतपूर्व क्षण के आने से प्रफुल्लित हो उठा। रात को जैसे ही घड़ी ने 12 बजाए वैसे ही मंदिरों में घंटे-घडि़याल गूंज उठे। मंदिरों में भक्‍तों ने कान्‍हा के दर्शन किए और जयकारे लगाए। वहां कान्हां के जन्मोत्सव की झांकी के दर्शनों को श्रद्घालु उमड़ पड़े।

यूं तो आज पूरे देश में ही लीलानंदन भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जा रहा है लेकिन उनकी जन्मभूमि मथुरा तो मानों आज अपने तारणहार के आने की खुशियों में न्यौछावर होती नजर आई। हर ओर सतरंगी छटा लाला के आगमन को सूचित कर रही थी। जन्म से पूर्व और बाद में भगवान के विग्रहों की पूजा की गई।

कान्हा के जन्मोत्सव पर देवता भी हर्षित हुए और आसमान से दिन भर फुहार पड़ती रहीं। विश्व प्रसिद्ध ठाकुर बांके बिहारी मंदिर, इस्कॉन, प्रेम मंदिर, श्री प्रियाकांतजू मंदिर से लेकर सप्त देवालयों में लाला का जन्मोत्सव श्रद्धा और भक्ति के साथ मनाया। प्रेम मंदिर में देर रात्रि जन्माष्टमी आयोजन में ठाकुरजी की प्रतिमा का दूध, दही, घी, बूरा, शहद इत्यादि से भव्य महाभिषेक किया गया। मंदिर में आरती का आयोजन हुआ। मंदिर को रंग बिरंगी रोशनी से सजाया गया। http://www.nationnews9.com