यूपी के माफिया मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद अब इस कुख्यात की जान को है खतरा

यूपी के माफिया मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद अब इस कुख्यात को जान का खतरा है। सुनील राठी मुन्ना बजरंगी के हार्ड कोर गुर्गों के निशाने पर है।

0
46

अभिषेक दुबे 

संवाददाता 

यूपी के माफिया मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद अब इस कुख्यात को जान का खतरा है। सुनील राठी मुन्ना बजरंगी के हार्ड कोर गुर्गों के निशाने पर है। सूत्रों की मानें तो बागपत और मेरठ क्षेत्र के कई ऐसे बदमाशों से राठी की दुश्मनी चल रही थी जो कुख्यात मुन्ना बजरंगी के शार्प शूटर माने जाते हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार करनावल मेरठ के उधम, केठल बागपत के धर्मेंद्र तथा भदौड़ा बागपत के योगेश का नाम अपराध जगत में शातिर बदमाशों में शुमार है।

हत्या में सुनील राठी का नाम सामने आ रहा है

बताया जाता है कि तीनों ही बदमाश कुख्यात मुन्ना बजरंगी के लिए काम करते हैं। सूत्रों की मानें तो बागपत जेल में बंद सुनील राठी को इन तीनों बदमाशों से कड़ी चुनौती मिल रही थी, अब चूंकि इन बदमाशों के आका मुन्ना की  हत्या में सुनील राठी का नाम सामने आ रहा है तो जाहिर तौर पर राठी इनके निशाने पर आ गया है।

ऐसे में आगामी दिनों में यूपी की गैंगवार कोई भी मोड़ अख्तियार कर सकती है। वहीं दूसरी ओर, रुड़की जेल में बंद राठी के प्रतिद्वंदी माने जाने वाले कुख्यात चीनू पंडित भी अब राठी के दुश्मनों से हाथ मिला सकता है। यदि ऐसा हुआ तो क्षेत्र में गैंगवार की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता।

जिले में भी गैंगवार के बादल मंडराने लग गए है

वैसे तो कुख्यात सुनील राठी का मौजूदा जानी दुश्मन कभी उसी का ही चेला रहा कुख्यात चीनू पण्डित ही है, लेकिन सोमवार से माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी के कत्ल से उसकी दुश्मनी कुख्यात संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा उर्फ डॉक्टर से भी होना तय है। उसकी वजह संजीव माहेश्वरी का माफिया डॉन मुख्तार अंसारी से जुड़े होना है, ऐसे में हरिद्वार के अपराध जगत के इन दो बड़े नामों के बीच अब खुलकर अदावत होने से जिले में भी गैंगवार के बादल मंडराने लग गए है। 

वेस्ट यूपी के टीकरी थाना दोघट से ताल्लुक रखने वाले सुनील राठी को अपराध जगत में नेमफेम हरिद्वार से ही मिली है, पर पूर्व चेयरमैन सोमपाल राठी से चली आ रही पारिवारिक रंजिश के अलावा उसकी किसी से दुश्मनी नहीं रही है। वक्त के गुजरने  के साथ साथ उसी के ही चेले रहे रुड़की के चीनू पण्डित से उसकी दुश्मनी इतनी गहरी हुई कि चीनू को कत्ल देने का ही फरमान उसने सुना दिया था। http://www.nationnews9.com

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here