आवास स्वीकृति कराने के नाम पर अहरौरा में अपंगों से लिया गया डूडा आवास के लिए घूस |

0
123

अहरौरा थाना में एक प्रार्थना पड़ा जिसमें प्रार्थिनी विनिता पत्नी मनोज सोनकर निवासी बौलिया ने आरोप लगाया कि डूडा आवास में कल्लू पुत्र बाबूलाल ने अधिकारियों के नाम से धन उगाही जबरदस्ती किया है। मनोज गूंगा और बहरा है और उसकी पत्नी भी अपाहिज है। आवास स्वीकृति कराने के नाम पर इन्हें आरोपियों द्वारा बरगलाया गया और बाबन सौ पचास रूपये वसूल लिये गये। सूत्रों के मुताबिक आरोपी की सांठ गांठ नगरपालिका के चयनित और मनोनीत दोनों के साथ है। अहरौरा में पास हुए आवासों पर धन उगाही का मामला कई बार प्रकाश में आया लेकिन किसी ने इंसाफ के लिए जुबां व्यवस्था के खिलाफ नहीं खोला। डूडा आवास योजनाओं में लाखों का गोलमाल करने का आरोप लगते रहे हैं। जिस पर आम जनमानस को जागरूक करने के लिए सूचनाओं का सहारा लिया। इसी का परिणाम है कि यह मामला प्रकाश में आया।पहला आवासीय किस्त गूंगा व बहरा मनोज को मिल चुका था। द्वितीय किस्त आयी थी। यह जानकारी आरोपी को कैसे हुई?यह खेल नगर पालिका में आये द्वितीय किस्त पर खेली जा रही थी।
आरोपी सत्ताधारी पार्टी से जुटा बताया जा रहा है। आरोपी एक मोहरा है जो दूसरों के लिए काम करता है। अब बचाने वालों की जानकारी में पुलिस जुटेगी और उनसे भी तार जोड़ने की कवायद शुरू होगी लेकिन इतना तय है कि बड़े पैमाने पर अहरौरा में हो रहे घोटालों को बड़े अधिकारियों को संज्ञान में लेना चाहिए।