आइए जाने ट्रोल्स का मतलब, अब ट्रोलर्स पर होगा एक्शन

0
83

ऑनलाइन समुदाय  में भड़काऊ, अप्रासंगिक तथा विषय से असम्बंधित सन्देश प्रेषित करता है।  इनका मुख्य उद्देश्य अन्य प्रयोक्ताओं को वाँछित भावनात्मक प्रतिक्रिया हेतु उकसानाअथवा विषय सम्बंधित सामान्य चर्चा में गड़बड़ी फैलाना होता है। मीडिया रिपोर्टों ने ट्रॉल का प्रयोग “ऐसा व्यक्ति जो इण्टरनेट पर श्रद्धाँजलि देने वाली वेबसाइटों को सम्बंधित परिवारों को दुःख देने के लिये नष्ट करे” हेतु किया है।   वैज्ञानिकों ने एक नयी तकनीक विकसित की है जिससे सोशल मीडिया पर किसी पर का पता चल सकता है। यह तकनीक साइबर दबंगई का शिकार बने बच्चों के अभिभावकों या नेटवर्क ऐ डमिनिस्ट्रेटर को इसके बारे में सचेत भी करेगी। अमेरिका की युनिवर्सिटी ऑफ कोलोराडो बोल्डर के वैज्ञानिकों ने साइबर दबंगई का पता लगा ने वाली अन्य तकनीकों के मुकाबले इस तकनीक में पांच गुणा कम गणन संसाधनों का उपयोग किया है।

इन अनुसंधानकर्ताओं में एक इंडियन मूल का वैज्ञानिक भी शामिल है।सोशल मीडिया का अत्यधिक प्रयोग युवाओं के मानसिक सेहत को प्रभावित कर रहा है ।

विशेषज्ञों का कहना है कि कई युवाओं में ‘असामान्य’ व्यवहार व जीवनशैली संबंधी परिवर्तन देखे गए हैं जिनके कारण उनकी एजुकेशन व पर्सनल संबंधों पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ रहा है । दिल्ली के शीर्ष के सेहत संस्थानों के मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि चिंता की बड़ी बात यह है कि ज्यादातर मामलों में लोगों को यह पता भी नहीं है वे इस समस्या से पीड़ित हैं ।बोल्डर के प्रोफेसर रिचर्ड हैन ने बताया कि यह तकनीक प्रभावी है व थोड़े से निवेश से इसके माध्यम से इंस्टाग्राम के आकार के किसी नेटवर्क की निगरानी की जा सकती है । वैज्ञानिकों के इस समूह ने एक मुफ्त ऐंडूायड ऐप्प ‘बुलीएलर्ट’ भी जारी किया । इसके माध्यम से इंस्टाग्राम पर साइबर- दबंगई की किसी घटना पर पीड़ित के अभिभावकों को उसका एलर्ट मिल जाता है ।

आइए जाने ट्रोल का मतलब हमलावर प्रेषक के अलावा संज्ञा ट्रॉल का प्रयोग भड़काऊ सन्देश के लिये भी हो सकता है ऐसे व्यक्ति को कहा जाता है जो किसी ऑनलाइन समुदाय  में भड़काऊ, अप्रासंगिक तथा विषय से असम्बंधित सन्देश प्रेषित करता है।  इनका मुख्य उद्देश्य अन्य प्रयोक्ताओं को वाँछित भावनात्मक प्रतिक्रिया हेतु उकसानाअथवा विषय सम्बंधित सामान्य चर्चा में गड़बड़ी फैलाना होता है। मीडिया रिपोर्टों ने ट्रॉल का प्रयोग “ऐसा व्यक्ति जो इण्टरनेट पर श्रद्धाँजलि देने वाली वेबसाइटों को सम्बंधित परिवारों को दुःख देने के लिये नष्ट करे” हेतु किया है।