जीवन परिचय – रामकृष्ण परमहंस के भटकते भिक्षु स्वामी विवेकानंद

0
44

भारत में महान सन्यासी के रूप में जाने जाने वाले और पूरी दुनिया में अपने आध्यात्मिक ज्ञान का परचम लहराने वाले स्वामी विवेकानंद जी की आज जयंती है | स्वामी विवेकानंद जी का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता  में नरेंद्रनाथ दत्त के रूप में हुआ था | उनके पिता विश्वनाथ दत्त कोलकाता हाईकोर्ट में वकील थे जबकि माता भुवनेश्वरी देवी धार्मिक प्रवृत्ति की महिला थी |

स्वामी विवेकानंद जी को रामकृष्ण परमहंस के भटकते भिक्षु का उपनाम भी दिया गया था | उन्होंने आध्यात्मिक ज्ञान की खोज और वेदांत दर्शन का संदेश फैलाने के लिए शिकागो से कोलंबो और हिमालय से कन्याकुमारी तक की यात्रा की थी | कहा जाता है की उन्होंने अपने जीवन का सबसे लंबा समय रायपुर में बिताया जहां वे लगभग दो साल तक रहे |
स्वामी विवेकनंद जी भारत समेत पूरी दुनिया में किसी परिचय के मोहताज़ नहीं हैं | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर जिसे अक्सर स्वामी जी के ‘आध्यात्मिक जन्मस्थान’ के रूप में माना जाता है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here